टाटा समूह ने लोकसभा चुनावों के लिए दिया 600 करोड़ का चंदा

Redhunt.in 30 April 2019 BUSINESS 661
टाटा समूह ने लोकसभा चुनावों के लिए दिया 600 करोड़ का चंदा बीजेपी को दिए 350 करोड़, कांग्रेस को सिर्फ 50 करोड़, चंदा देने के लिए बना रखा है ट्रस्ट, एक मीडिया रिपोर्ट में हुआ खुलासा

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए टाटा समूह ने 500 से 600 करोड़ रुपये का चंदा दिया है. इसमें भी टाटा ने सबसे ज्‍यादा चंदा भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को दिया है. माना जा रहा है कि कुल रकम का आधे से ज्‍यादा हिस्सा केवल बीजेपी के खाते में गया है. इस बात का खुलासा बिजनेस स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट से हुआ है. टाटा ने 2019 में राजनीतिक पार्टियों को जो चंदा दिया वह 2014 में दिए गए चंदे से 20 गुना ज्यादा है. 2014 में समूह ने सभी दलों को कुल 25.11 करोड़ रुपये का चंदा दिया था. खास बात यह है कि टाटा समूह ने राजनीतिक पार्टियों को चंदा देने के लिए एक ट्रस्ट बना रखा है और उसका नाम है प्रोग्रेसिव इलेक्टोरल ट्रस्ट.

 

जानकारी के अनुसार टाटा समूह ने बीजेपी को 300 से 350 करोड़ रुपये लोकसभा चुनावों के लिए चंदे के तौर पर दिए हैं. वहीं समूह ने कांग्रेस को सिर्फ 50 करोड़ रुपये का चंदा दिया है. बाकि बचा पैसा टीएमसी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, सीपीआईएम और एनसीपी जैसी पार्टियों को दिया है.

 

टाटा के अनुसार वह चंदा संसद में किस पार्टी की कितनी सीटे हैं उस हिसाब से देती है. इसलिए बीजेपी को सबसे ज्यादा चंदा दिया गया है. समूह ने जानकारी दी कि टाटा की सभी कंपनियां अपना पैसा प्रोग्रेसिव इलेक्टोरल ट्रस्ट में जमा करती हैं.

Similar Post You May Like

Donate us


Recent Post